Screen Reader Access Skip to Main Content Font Size   Increase Font size Normal Font Decrease Font size
Indian Railway main logo
खोज :
View Content in English
National Emblem of India

हमारे बारे में

समाचार एवं भर्ती

निविदाएं

निर्माण परियोजनाएं

वाणिज्यिक,भाड़ा जानकारी एवं सार्वजनिक सूचना

रेल कर्मियों के लिए

हमसे संपर्क करें



 
Bookmark Mail this page Print this page
QUICK LINKS
सिग्नल एवं दूरसंचार शाखा

सिगनल व दूरसंचार शाखा/दपरे मैसूरू का संगठनात्‍मक चार्ट



परिचय

प्रशासक लघु निर्माण कार्यो से पृथकसंपूर्ण मैसूरू मंडलमे फैले स्‍टेशनोंपर सिगनलिंग औरदूरसंचार अनुरक्षण को सिगनल व दूरसंचारविभाग कर रहा है । 


मैसूरू मंडल में 92 स्‍टेशनों की संख्‍या है और 60 समपारों परइंटरलॉक है ।
 


कर्मचारियोंकी संख्‍या /Staff strength: 

सिगनलिंग कर्मचारियों की संख्‍या 

193

दूरसंचार कर्मचारियों की संख्‍या

87


प्रणाली के बारे में

रेलवे के लिये सिगनल एक बहुत महत्‍वपूर्णपक्ष है ,इससे यह सुनिश्चित होता है कि रेलगाडियां स्‍टेशनों से सुरक्षितगुजर गई हैं। यह एक प्रकार का स्‍टेशन मास्‍टर और चालकों के बीचसंप्रेषण है कि क्‍या रेलगाडी स्‍टेशन के अंदर प्रवेश करें / स्‍टेशन से प्रस्‍थान करें अथवा स्‍टेशन पर से जो रेलगाडी होकर गुजरनी है अथवा जो लाइन रेलगाडी को मिली है उस लाइन पर उसकी गति कोचालकनियंत्रण करने में समर्थ है । यह भी एक प्रणाली है जो कि रेलगाडियों के साथ काम / व्‍यवहार करते समय मानव विफलताओं का विलोपन करता है । सिगनलिंग के डिजाइन और विभिन्‍न प्रकार के उपकरणों काउपयोग सुरक्षित परिचालन को विफल करता है ।


संरक्षा घटक

विभिन्‍न बिजली के साधन जैसे ट्रेक सर्किटयूट , लीवर लॉक , रिले ,एक्‍सल कांउटर , डाटालाग्‍गर, पैनल, ठेकेदार, बैटरियों के विभिन्‍नप्रकार , चार्जर, जनरेटर ,ब्‍लॉक उपकरण , घनीभूत इंटरलॉकिंगडिवाइसइ‍त्‍यादिसुनिश्चित संरक्षामें एक संघटित ढंग है ।

ओवर व्‍यू


मैसूर मंडल (सिगनलिंग) के संक्षेप में विवरण

क्रम सं

विवरण

कुल संख्‍या

1

स्‍टेशनों की संख्‍या

92

2

मानक 1 इंटरलॉक स्‍टेशनों की संख्‍या

3

3

मानक 11इंटरलॉक स्‍टेशनों की संख्‍या

85

4

मानक 111 इंटरलॉक स्‍टेशनों की संख्‍या

4

5

प्राथमिक इंटरलॉक स्‍टेशनों की संख्‍या

0

6

आर आर आई स्‍टेशनों की संख्‍या

0

7

पैनल इंटरलॉक स्‍टेशनों की संख्‍या

79

8

स्‍टेमा. के नियंत्रण के साथ इलेक्‍ट्रो -यांत्रिक स्‍टेशन केन्‍द्रीकृत ऑपरेशनों की संख्‍या

1

9

इलेक्‍ट्रोनिक इंटरलॉकिंगकी संख्‍या

12

10

मध्‍य सेक्शन इंटरलॉक समपारों की संख्‍या

60

11

चुबंकीय फोनों के साथ समपार उपलब्‍ध की संख्‍या

214

12

ट्रिपल पोल लैम्‍पों के साथ उपलब्‍ध पक्षों की संख्‍या

-कुछ नहीं-

13

स्‍टेशनों पर उपलब्‍ध बैटरी चार्जर वोल्‍टेज मॉनीटरों की संख्‍या

14

कॉलिंग ऑन –सिगनल के साथ उपलब्‍ध स्‍टेशनों की संख्‍या

15

संघटित पॉवर आपूर्ति के साथ उपलब्‍ध स्‍टेशनों की संख्‍या

29

16

टोकनरहित / टोकन ब्‍लॉक उपकरणों की संख्‍या

92

a.Diodo-22

b.S/L Tokenless PTJ make-79

c.D/L Tokenless SGE Type-13

d.Token - Neale's Ball Type -0

e.Token- Neale's Tablet Type-0

17

प्रकाश के लिये सौर पैनलों के साथ उपलब्‍ध सिगनलों की संख्‍या

-Nil-

18

सिगनलों के लिये उपलब्‍ध एल ई डी पक्षों की संख्‍या

            

2693

19

इंटरलॉक्‍ पांइटों की संख्‍या

960

a.बिजली पांइट मशीन -870

b. रॉड संचालन -0

c. एच पी लॉक्‍ -90

20

ट्रेक सर्किटयूट की संख्‍या

1799

21

सिगनलिंग यूनिटों की संख्‍या

73594



 

सिगनल

 

सिगनलिंग के प्रकार

सिगनलिंग कोईभी हो सकता है / निम्‍नलिखित प्रकार के मिलान है

  • यांत्रिक सिगनलिंग
  • इलेक्‍ट्रो यांत्रिक सिगनलिंग
  • पैनल इंटरलॉकिंग
  • रूट रिलेइंटरलॉकिंग
  • इलेक्‍ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग
  • स्‍टेमा. नियंत्रण से सिगनलएवं केन्‍द्रीकृत ऑपरेशन

कौशल

सिगनलिंग प्रणाली का अनुरक्षण करने वाले कर्मचारीउच्‍च प्रकार से निपुण होते हैं,संरक्षा सुनिश्‍चयन करने के लियेअत्‍याधिक अनुशासन पालन करने कीआवश्‍यकता होती है । वे न्‍यूनतम संभवदेरी के साथ रेलगाडियों के गुजरने के लिये अपने पॉवों पर खडे रहते हैं । अच्‍छा , बहुत उत्‍कृष्‍टता से स्‍थापितओ एफ सी का संचार नेटवर्क,क्‍वाड केबिलों तथा ओवरहैडसंरेखणरेलों के ऑपरेशन के लिये एक नेटवर्क बनाये रखने के लिये एक नियंत्रक कार्यालय से जुडे हैं ।
 

 

 

सिगनलों के प्रकार

रंगीन बत्‍ती सिगनल

सिगनलों को विभिन्‍न नाम दिये गये हैं

  • शंट सिगनल
  • र्स्‍टाटर सिगनल (प्रेषण सिगनल) 
  • होम सिगनल (प्राप्ति सिगनल)
  • सिगनलों पर बुलाना 

अभिनव परिवर्तन

नियमितअनुरक्षण कार्य के अलावा,मंडल ने  एडवांस तकनीकी के कार्यान्‍वयन के लिये विभिन्‍नअभिनव कार्य किये हैं

  • निष्‍पादन पैरामीटरों के अध्‍ययन सेन केवल संरक्षणात्‍क अनुरक्षण के लियेडाटालाग्‍गरों के लियेनेटवर्किंग का उपयोग नहीं है ब्‍लकि संपूर्ण मंडल पर रेलगाडियों के संचलन के ऑनलाइन ट्रेकिंग के लिये भीयह आवश्‍यक है ।

  • बिनाहस्‍तक्षेप के स्‍टेशनों पर रेलगाडियों के आगमन/ प्रस्‍थान की स्‍वचालित उदघोषणा करना। 
    प्राइवेट संख्‍या का आदान प्रदान – समपार फाटक और निकटस्‍थ स्‍टेशन के बीचप्राइवेट संख्‍याओं के मशीन जनित / एकत्रित संख्‍या का आदान – प्रदान होना ।
  • आपातकालीन परिस्थितियों के दौरानवर्तमान आपातकालीन सॉकेट नेटवर्क से तांबे के संचालक की केवल एक जोडीके उपयोग सेमंडल प्रका. को मध्य सेक्‍शन / दुर्घटना स्‍थल से संचार का प्रावधान  
  • दुर्घटना स्‍थलसे राहत और बचाव कार्यो की मॉनीटरिंगके वास्‍तविक समय का प्रावधान और तत्‍काल सहायता देना ।
  • यात्रा करने वाले सार्वजनिकों के लाभ के लिये कोच गाइड प्रणाली का प्रावधान  
  • अनुसूचियों के अनुरक्षण के अच्‍छे प्रवर्तन के लिये ई –टिकटिंगका प्रावधान  




Source : दक्षिण पश्चिम रेलवे CMS Team Last Reviewed on: 13-11-2020  


  प्रशासनिक लॉगिन | साईट मैप | हमसे संपर्क करें | आरटीआई | अस्वीकरण | नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति Valid CSS! Valid XHTML 1.0 Strict

© 2010  सभी अधिकार सुरक्षित

यह भारतीय रेल के पोर्टल, एक के लिए एक एकल खिड़की सूचना और सेवाओं के लिए उपयोग की जा रही विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं द्वारा प्रदान के उद्देश्य से विकसित की है. इस पोर्टल में सामग्री विभिन्न भारतीय रेल संस्थाओं और विभागों क्रिस, रेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाए रखा का एक सहयोगात्मक प्रयास का परिणाम है.